Computer Memory in hindi – इसके कितने प्रकार है

0
241
Computer Memory Kya Hai
जानकारी पसंद आये, तो पोस्ट शेयर जरूर करे
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Computer Memory In Hindi:  क्या आप नहीं जानते की कंप्यूटर मेमोरी क्या है और इसके कितने प्रकार है, तो आप बिलकुल सही जगह आये है, इस पोस्ट में आपको Memory Kya Hai इसके बारे में पूरी जानकारी मिलेगी। 

हम जो कुछ देखते है, सुनते है या पढ़ते है वह सब हमारे दिमाग में Store हो जाता है, ऐड हो जाता है और हम उसे याद रख पाते है। जैसे बिना ब्रेन के हमारा कोई अस्तिस्त्व नहीं ठीक उसी तरह Computer memory भी होती है जिसके बिना कंप्यूटर अपना कोई भी काम नहीं कर सकता है।

Computer में जो Data, प्रोग्राम और निर्देश आदि हम Save करते है वह मेमोरी में ही तो Save होता है। कंप्यूटर की मेमोरी में Data Save होने की वजह से ही तो हम किसी को Data शेयर कर  पाते है यह बिलकुल हमारे दिमाग की तरह Work करता है। तो क्या आप जानते है Memory Kya Hai, Computer Memory के कितने प्रकार है और यह कैसे काम करता है ?जाने हिंदी में 

Computer Memory Kya Hai

Computer जो मेमोरी होती है वह बेहद जरुरी होती है उसके बिना एक छोटा काम भी नहीं कर सकते है मेमोरी का काम होता है, डाटा और निर्देशों को किसी काम को करने के लिए Computer system में स्टोर करके रखना और मेमोरी कंप्यूटर में मदरबोर्ड में लगी हुई होती है।  

Computer Memory का काम Data को Store करने का होता है, जब जरूरत होती है तब कंप्यूटर को उपलब्द कराती है। कंप्यूटर मेमोरी छोटी – छोटी भागो में बटी हुई है और हर भाग को Cell कहा जाता है। 

जब भी हमको किसी task को Perform के लिए Data and instruction की जरूरत पड़ती है तब  CPU कंप्यूटर मेमोरी को एक्सेस करता है और वह पर स्टोर किया गया Data को CPU को भेज देता है यह एक स्टोरेज स्पेस है। 

Types Of Computer Memory

वैसे तो कंप्यूटर में बहुत सारी मेमोरी है, लेकिन मुख्य रूप से यह है। इस सब का काम अगल – अगल है और यही मुख्य 3 प्रकार है। 

  • Primary memory
  • Secondary memory
  • Cache Memory 

Primary memory क्या है 

इस मेमोरी को Main memory कहते है, इसकी कैपेसिटी कम होती है और यह काम खत्म होने के बाद या Computer Shut Down के बाद इसका सारा Data अपने आप ही डिलेट कर देता है।Primary Memory में डाटा और instructions को होल्ड करता है जिसकी वजह से अभी Computer अभी कार्य कर रहा है और इसमें लिमिटेड क्षमता होती है। यह जिन डाटा की जरुरत  होती, जिन Instruction की जरुरत  होती उन्हें process करके मेमोरी के भीतर Reside कर देती है। 

प्राइमरी मेमोरी दो प्रकार की है 

1. RAM क्या है 

Ram का full form होता है Random Access Memory  यह मेमोरी वर्तमान में किये जा रहे कार्यो को स्टोर करता है, उसे मेमोरी CPU में Data Direct Access कर देता है। 

Integrated Ram Chips दो अलग प्रकार की होती है :-

  • SRAM (Static RAM)
  • DRAM (Dynamic RAM)

2. ROM क्या है 

Rom का full form होता है Read Only Memory इस डाटा को आप सिर्फ पढ़ सकते है, इसमें आप कोई नया डाटा जोड़, ऐड नहीं कर सकते है। यह switch off होने के बाद भी इसमें कोई data lost नहीं होता है इसे memory volatile कहते है। इन्हे मुख्य रूप से Calculators और Peripheral Devices में use किया जाता है। इसमें programming change करने की जरुरत नहीं पड़ती क्योकि इसमें Embedded Systems का इस्तेमाल किया गया है।

ROM MEMORY के प्रकार 

1 – PROM का FULL FORM होता है Programmable Read Only Memory – इसमें एक बार Programmed User किया जाता है, और फिर एक बार Programmed कर दिया फिर उसमे DATA और Instruction जो होते है, उनमे फिर बदलाव नहीं किये जा सकते है। 

2 – EPROM का FULL FORM होता है Erasable Programmable Read Only Memory – इसको आप Re-programmable कर सकते है, डाटा को erase करने के लिए आपको उन्हें Expose करना है और ultra violet लाइट करना है फिर आप कुछ बदलाव करना हो तो previous के data को erase करना होगा। 

3 – EEPROM का FULL FORM होता है Electrically Erasable Programmable Read Only Memory – इसको ultra violet light की जरूरत नहीं होती, यह डाटा को erase किया जाता है Electric field को अप्लाई करके और हम चिप के सभी portions को साथ में erase कर सकते है।  

Secondary Memory क्या है 

इसका उपयोगी डाटा को हम हमेशा के लिए स्टोर कर सकते है, यह Memory बहुत सुरक्षित रहती है जिसमे User और Computer दोनों ही अच्छे और कभी भी Access कर सकते है।यह Secondary Memory Computer के CPU का भाग नहीं होता है, पहले इसका Data मुख्य Memory में चला जाता है, और इसके बाद ही CPU से आप इसे इस्तेमाल कर सकते है। 

इसकी Storage Capacity बहुत ही ज्यादा है, जैसे Hard Disks है, CD, DVD, PAN DRIVES बगेरा।

Cache Memory क्या है

यह अस्थिर मेमोरी और कंप्यूटर की सबसे तेज मेमोरी है जो CPU के पास में होती है जिसे CPU memory भी कहा जाता है, सभी Recent Instructions, Cache Memory में ही store होते हैं।इसमें CPU ( Central Processing Unit ) बहुत ही तेज चलता है, तेज होता है। यह मेमोरी बहुत ही अच्छी तरह से और Fast काम करता है। 

यह भी जरूर पढे:-

इसमें डाटा और प्रोग्राम हिस्सों में होता है, उसको पहले Transfer किया जाता है Disk में Cache Memory तक फिर Operating System के द्रारा इसको CPU से आसानी से ACCESS कर सकते है

निवेदन : दोस्तों अगर आपको हमारा यह पोस्ट Computer Memory In Hindi पसंद आया हो तो हमे Comment के माध्यम आप हमे बता सकते है, हम इस Blog पर Goverment Scheme के releted और updated जानकारी लाते रहते है. अगर आपको इस पोस्ट के releted कोई सवाल हो तो आप हमे Comment पूछ करके पूछ सकते है। हमारी यही कोशिश है की आपको हमारी साइट पर पूरी जानकारी मिल जाये ताकि आपका ज्यादा समय ना बर्बाद हो 

यह पोस्ट Memory Kya Hai In Hindi आपको पसंद आयी हो तो FACEBOOK पर शेयर करना मत भूलियेगा।


जानकारी पसंद आये, तो पोस्ट शेयर जरूर करे
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here